प्राकृतिक संसाधन (Natural Resources in hindi)

प्राकृतिक संसाधन क्या है, अर्थ एवं परिभाषा अथवा प्राकृतिक ससाधनों का महत्त्व एवं उनका वर्गीकरण


वे संसाधन जो प्रकृति द्वारा नि:शुल्क प्रदान किए जाते है एवं मनुष्य के लिए उपयोगी होते है, प्राकृतिक संसाधन (Natural resources in hindi) कहलाते है।

वास्तव में, मानव जीवन एवं विकास प्राकृतिक संसाधनों (Natural resources in hindi) पर अत्यधिक निर्भर रहा है ।

यदि आपको भी प्राकृतिक संसाधन की कोई सरल परिभाषा पता है, तो कॉमेंट में जरूर लिखे।

प्राकृतिक संसाधन ( Natural resources in hindi
प्राकृतिक संसाधन ( Natural resources in hindi


प्राकृतिक संसाधन से आप क्या समझते है?


प्रकृति एवं मानव का सम्बन्ध माता एवं पुत्र के सम्बन्ध सरीखा विशिष्ट सम्बन्ध है ।

मानव की उत्पत्ति प्रकृति की कोख से ही हुई है और प्रकृति के देख - रेख में ही मानव का विकास संभव हो सका है ।

प्रकृति जब अनुकूल रही है, मानवता का विकास हुआ है और जब कभी प्रतिकूल रही है मानव को जान के भी लाले पड़ गये हैं ।

प्राकृतिक संसाधन क्या है? Natural resource in hindi


वे संसाधन जो प्रकृति द्वारा मानव के अस्तित्व एवं विकास के लिए प्रदान किये जाते हैं एवं मनुष्य के लिए उपयोगी होते हैं, प्राकृतिक संसाधन कहलाते हैं ।

वास्तव में, प्राकृतिक संसाधन (Natural resources in hindi) प्रकृति द्वारा मानव जीवन के अस्तित्व एवं विकास के लिए प्रदान किये गये नि:शुल्क अमूल्य उपहार हैं।

प्राकृतिक संसाधन के नाम (Names of natural resources in hindi)


किसी देश की भौगोलिक स्थिति, आकार, धरातल, मिट्टी, वायु, जल, जलवायु, वनस्पति, जीव - जन्तु, खनिज पदार्थ, सूर्य का प्रकाश आदि प्राकृति - प्रदत्त ही हैं और प्राकृतिक संसाधनों के उदाहरण हैं ।

प्राकृतिक संसाधन किसे कहते है:- अर्थ एवं परिभाषा (Natural Resources :- Meaning and Definition in hindi)


प्राकृतिक संसाधनों को निम्न प्रकार से परिभाषित किया जा सकता है


पी० ई० मैकनॉल (P. E. Machnol) के कथनानुसार,

प्राकृतिक संसाधन (Natural resources in hindi) वे संसाधन हैं, जो प्रकृति द्वारा नि:शुल्क प्रदान किये जाते हैं और मनुष्य के लिए उपयोगी होते हैं।"

नार्टन एस० जिन्सबर्ग (Norton S. Ginsburg) के कथनानुसार,

"प्रकृति द्वारा दिए गये स्वतंत्र पदार्थ जब मानवीय क्रियाओं के उपयोग घेरे में आता है, प्राकृतिक संसाधन (Natural resources in hindi) कहलाता है।"


प्राकृतिक संसाधन (Natural resources in hindi) वातावरण में प्राकृतिक रूप से मानव के प्रयास से विरत पाये जाते है।"

प्राकृतिक संसाधन का महत्त्व (Importance of Natural resources in hindi)


प्राकृतिक संसाधनों में निम्न महत्व हैं


1. निष्क्रियता (Non - active) -


प्राकृतिक संसाधन (Natural resources in hindi) स्वयं निष्क्रिय हैं तथा उनका उपयोग तकनीकी ज्ञान एव मानव श्रम के माध्यम से ही सम्भव है ।

2. निःशुल्क उपलब्धता (Unpaid Availability) -


प्राकृतिक संसाधन मानव के लिए प्रकृति में निःशुल्क उपलब्ध हैं अर्थात् मानव इनके लिए प्रकृति को कुछ भी नहीं देता ।

3. ज्ञात एवं अज्ञात (Known and Unknown) -


जिन प्राकृतिक संसाधन की जानकारी मनुष्य को ज्ञात है, वे सभी ज्ञात है, जबकि जिन साधनों की जानकारी मनुष्य को ज्ञात नहीं है, वे अज्ञात प्राकृतिक संसाधन (Natural resources in hindi) हैं ।

4. विविधता (Diversity) -


प्राकृतिक संसाधनों में विविधता पायी जाती है । इसी आधार पर इन्हें अनेक श्रेणियों एवं उप - श्रेणियों में विभाजित किया जा सकता है ।

प्राकृतिक संसाधन का वर्गीकरण (Classification of Natural resources in hindi)


प्राकृतिक संसाधनों को विभिन्न आधारों पर निम्न प्रकार से वर्गीकृत किया जा सकता है ।


( क ) स्रोत के आधार पर वर्गीकरण


स्रोत के आधार पर प्राकृतिक संसाधनों को निम्न पाँच वर्गों में विभाजित किया जा सकता है -


1. खनिज संसाधन क्या है? Mineral Resources in hindi


वे संसाधन जिन्हें भू - गर्भ से मशीनों की सहायता से निकालकर भूतल पर लाया जाता है, खनिज संसाधन (Mineral resources in hindi) कहलाते हैं।

खनिज संसाधन के नाम - लौह अयस्क, मैंगनीज, बॉक्साइट, कोयला, खनिज तेल, चाँदी, सोना आदि ।

2. मृदा संसाधन क्या है? Soil resources in hindi


वे संसाधन जो ठोस भूपटल पर पाये जाते हैं अर्थात् मिट्टी से प्राप्त होते हैं, मृदीय संसाधन (Soil resources in hindi) कहलाते हैं।

मिट्टी किस प्रकार का संसाधन है?


मृदा संसाधन के नाम - विभिन्न प्रकार की मिट्टियाँ, कंकड, पत्थर आदि ।

3. जल संसाधन किसे कहते है? Water resources in hindi


भूमण्डल पर जल की प्राप्ति सागरों, नदियों एवं जलाशयों आदि के द्वारा होती है । इनसे हमें जो पीने का, सिंचाई का एवं विद्युत उत्पादन आदि के लिए जल प्राप्त होता है, वह जल संसाधन (Water resources in hindi) है ।

जल संसाधन के नाम - मछली, मोती, मूंगा आदि भी प्राप्त होते हैं ।

4. वनस्पति संसाधन किसे कहते है? Botanical resources in hindi


विभिन्न प्रकार के पेड़ - पौधे एवं उनसे प्राप्त उपयोगी वस्तुएँ वनस्पति संसाधन (Botanical resources in hindi) है।

वनस्पति संसाधन के नाम - लकड़ियाँ, पत्तियाँ, लाख, कत्था आदि ।

5. जीव - जन्तु संसाधन क्या है?


वे संसाधन जो स्थलीय एवं जलीय जीव - जन्तुओं के रूप में मानव को प्राप्त होते हैं, जीव - जन्तु संसाधन कहलाते हैं।

जीव - जन्तु संसाधन के नाम - पशु - पक्षी आदि ।

( ख ) उपलब्धता / आपूर्ति के आधार पर वर्गीकरण


उपलब्धता / आपूर्ति के आधार पर प्राकृतिक संसाधनों को निम्न दो वर्गों में बाँटा जा सकता है -


1. सम्पूर्ति / आपूर्ति अथवा सतत संसाधन


वे प्राकृतिक संसाधन जिनका उपयोग निरन्तर किया जा सकता है, उन्हें सम्पूर्ति / आपूर्ति अथवा सतत संसाधन कहा जाता है।

सम्पूर्ति / आपूर्ति अथवा सतत संसाधन के नाम - जल, वायु, प्राकृतिक वनस्पति, सूर्यताप आदि।

2. अपूर्य / अनापूर्ति अथवा संचित संसाधन


वे संसाधन, जो सीमित होते हैं तथा एक बार प्रयोग करने के बाद सदैव के लिए समाप्त हो जाते हैं, अपूर्य / अनापूर्ति अथवा संचित संसाधन कहलाते हैं।

संचित संसाधन के नाम - खनिज अयस्क, कोयला, खनिज तेल, लकड़ी आदि ।

( ग ) विकास की अवस्था के आधार पर वर्गीकरण


विकास की अवस्था के आधार पर प्राकृतिक संसाधनों को निम्न तीन वर्गों में बाँटा जा सकता है -


1. सम्भाव्य संसाधन क्या है?


वे संसाधन जिनके किसी प्रदेश में उपस्थित होने की पर्याप्त सम्भावनाएँ विद्यमान होती है, सम्भाव्य संसाधन कहलाते हैं।

सम्भाव्य संसाधन के नाम - गंगा नदी में पर्याप्त जलविद्युत की सम्भावना का होना ।

2. ज्ञात संसाधन कोन से है?


वे संसाधन जिनका सर्वेक्षण किया जा चुका है तथा उनकी मात्रा भली - भाँति निश्चित की जा चुकी है, ज्ञात संसाधन कहलाते हैं।

ज्ञात संसाधन के नाम - कोयला, लौह अयस्क की खदान आदि ।

3. अज्ञात संसाधन क्या है?


वे प्राकृतिक संसाधन जिन्हें अभी ढूंढा नहीं गया और न ही दोहन किया गया अर्थात् जो भविष्य के गर्त में समाये हैं ।

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box.

Previous Post Next Post