बीज नमूना क्या होता है एवं बीज का नमूना लेने की कोन कोन सी विधियां होती है

बीज नमूना या प्रतिदर्श (seed sample in hindi) बीज परीक्षण में बीज नमूने की गुणता ही ज्ञात होती है तथा इसे ही बीज ढेर की गुणता का निर्धारण मान माना जाता है, क्योंकि बीज नमूना उसका प्रतिनिधित्व करता है ।

हालांकि बीज के नमूने (seed sampling in hindi) की मात्रा नगण्य होती है तथापि यदि नमूने को यथार्थरूप से लिया गया है ।

तो उसके परीक्षणों के परिणाम सम्पूर्ण बीज की गुणता के द्योतक होते हैं ।

अत एवं बीज नमूने का संकलन पूर्णत: यथार्थ होना चाहिये ।


बीज नमूना क्या है - परिभाषा (defination of seed sampling in hindi)

बीज नमूना क्या होता है एवं बीज का नमूना लेने की कोन कोन सी विधियां होती है, seed sample in hindi, seed sampling in hindi, seed in hindi, seed
बीज नमूना क्या होता है एवं बीज का नमूना लेने की कोन कोन सी विधियां होती है


बीज नमूना की परिभाषा -
"बीज नमूना बीज की वह उचित मात्रा होती है जिस पर सभी परीक्षण पूरे किये जा सके तथा जिसमें सब घटक उस अनुपात में उपस्थित हो जितने की सम्पूर्ण बीज ढेर में उपस्थित होते है ।"


बीज का नमूना लेने की विधियां (Method of Seed Samplirg in hindi)


सैद्धान्तिक रूप से किसी बीज ढेर (seed lot) में से नमूना अलग - अलग स्थानों से यादृच्छिक रूप से लिया जाता है ।

इस प्रकार एकत्रित बीज को अच्छी प्रकार मिश्रित करके या दृच्छिक विधि द्वारा थोड़े नमूने प्राप्त किये जाते हैं ।

नमूना लेने के कार्य में प्रशिक्षित एवं अर्हता प्राप्त व्यक्ति द्वारा ही नमूना लेना चाहिये ।

नमूना लेने के लिए बीज ढेर को इस प्रकार व्यवस्थित करना चाहिये । जिससे प्रत्येक बीज यात्र या ढेर के प्रत्येक भाग तक सरलता से पहुंचा जा सके ।


ये भी पढ़ें


प्रारम्भिक नमूना ( Primary Sample ) -


प्रारम्भिक रूप से बीज ढेर में से यादृच्छिक रूप से, अलग - अलग स्थानों से एक छोटा भाग निकाल लिया जाता है, इसे प्रारंभिक नमूना कहते है ।

ढेर में एकत्रित बीज से नमूना हाथ से (by hand) या परखी (Trier) से लिया जाता है ।

बोरों में से नमूना परखी द्वारा लिया जाता है । परखी द्वार बीज इस प्रकार निकालना चाहिए जिससे बीज को कोई क्षति न पहुंचे ।

हाथ से नमूना लेने के लिए मुट्ठी बन्द हाथ को बीज ढेर में डालना (pushing) चाहिए तथा फिर मुट्ठी बीज से भर कर इस तरह निकालनी चाहिए कि कोई बीज बिखर न पाये ।

सामान्यतः भूसीदार बीजों के प्रारम्भिक नमूनों को हाथ से निकाला जाता है ।

बीज ढेर या बोरों में से नमूनों को यादृच्छिक रूप से विभिन्न गहराइयों एवं स्थलों से निकालचना चाहिए तथा प्रत्येक स्थान से निकाले गये नमूने की मात्रा लगभग समान होनी चाहिए ।

बीज ढेर या पात्रों को इस प्रकार व्यवस्थित करना चाहिए । जिससे कि प्रत्येक भाग तक सरलता से पहुंचा जा सके ।


बीज नमूने की मात्रा ( Quantity of seed sampling ) -


गुप्ता एवं अग्रवाल (1978) के अनुसार प्रारंभिक बीज नमूने लेने की मात्रा निम्न प्रकार होनी चाहिये -

( A ) बीज ढेर की मात्रा के अनुसार नमूनों की संख्या -50 कि ० ग्रा ० से कम बीज के लिए कम से कम 3 नमूने, 50 से 500 कि० प्रा० के लिए 5 नमूने, 501 से 3000 क ० ग्रा० तक प्रत्येक 300 कि० ग्रा० तक प्रत्येक कि० ग्रा० पर एक नमूना लगभग कम से कम 8 नमूने तथा 3001 से 21,000 तक प्रत्येक 500 कि० ग्रा० पर एक नमूना परन्तु कम से कम 10 नमूने लिए जाने चाहिए ।

( B ) समान आकार के बोरों / पात्रों से नमूने की संख्या -- 5 बोरों तक प्रत्येक से एक नमूना अतएवं कम से कम 5 नमूने, 6 से 30 बोरों तक प्रत्येक 3 बोरों से एक नमूना परन्तु कम से कम 5 नमूने तथा 30 से अधिक बोरों में से प्रत्येक 5 बोरों में से एक नमूना परन्तु कम से कम 10 नमूने लेने चाहिये ।


मिश्रित नमूना ( Composite Sample ) -


प्रारम्भिक नमूनों को अच्छी प्रकार मिश्रित कर लिया जाता है । इसे मिश्रित नमूना कहते हैं । मिश्रित नमूने में से प्रस्तुत नमूना लिया जाता है ।


प्रस्तुत नमूना ( Submitted Sample ) -


बीज परीक्षण के लिए बीज प्रयोगशाला में भेजे गये नमने को प्रस्तुत नमूना कहते हैं ।

सामान्यत: मिश्रित नमूने की मात्रा प्रस्तुत नमूने के लिए आवश्यक मात्रा से बहुत अधिक होती है ।

प्रस्तुत नमूने के लिए मिश्रित नमूने को इस प्रकार कम किया जाता है जिससे कि प्रस्तुत नमूना मिश्रित नमूने का प्रतिनिधि नमूना हो अत: मिश्रित नमूने को अच्छी प्रकार मिला लिया जाता है उसे आधा - आधा करते जाते हैं । इसे पुन: मिश्रित करके प्रस्तुत नमूना लेते हैं ।

यदि मिश्रित नमूने की मात्रा प्रस्तुत नमूने के बराबर ही है तो इसे प्रस्तुत नमूना ही मान लिया जाता है ।

प्रत्येक प्रस्तुत नमूने को चिन्हाकित किया जाता है । नमूनों को सील बन्द कर देना चाहिए ।


कार्यकारी नमूना ( Working Sample ) -


प्रयोगशाला में गुणता परीक्षण के लिए लिये गये नमूने को कार्यकारी नमूना कहते हैं ।

यह प्रस्तुत नमूने में से लिया जाता है तथा उसका छोटा परन्तु प्रतिनिधि भाग होता है । अत: नमूने को अच्छी प्रकार मिला लिया जाता है ।


ये भी पढ़ें


कार्यकारी नमूना लेने की विधियाँ निम्नलिखित है -

( A ) यांत्रिक विभाजक विधि ( Mechanical divider method ) -

प्रस्तुत नमूने को बीज विभाजक उपकरण (बोयर्नर विभाजक या गेमीट विभाजक) में डालकर अच्छी प्रकार मिश्रित कर लिया जाता है । इससे नमूना दो समान भागों में विभाजित हो जाता है ।

इनको पुनः मिश्रित पर विभाजक उपकरण में डालक मिश्रित एवं समान विभाजित भाग प्राप्त कर लिये जाते हैं ।

इस प्रक्रिया को पुनरावर्तित करने का उद्देश्य नमूने को सुमिश्रित करना होता है ।

नमूने को प्रत्येक बार आधा करके उपकरण द्वारा आधा समान भाग प्राप्त करते हैं ।

यह प्रक्रिया तब तक दोहरायी जाती है जब तक उपयुक्त मात्रा का कार्यकारी नमूना प्राप्त नहीं हो जाता है ।

यह विधि भूसीदार बीजों के लिए प्रयोग नहीं की जाती है ।


( B ) यादृच्छिक प्याला विधि ( Random cups method ) -

इस विधि में 6-8 छोटे प्यालों का प्रयोग नमूना लेने के लिए किया जाता है । प्याले का आकार विभिन्न जातियों के लिए भिन्न भिन्न होता है ।

इस विधि का प्रयोग केवल उन जातियों के नमूने लेने के लिए किया जाता है जिनके कार्यकारी नमूने का भार 10 ग्राम तक ही रखा जाता है तथा जिनके बीज लुढ़कने वाले न हो और भूसीयुक्त न हो ।

इस विधि में प्यालों को बीजों से भरकर यादृच्छिक रूप से एक ट्रे ( Tray ) में रख लिया जाता है ।

प्रारम्भिक मिश्रण के उपरान्त बीज को समान रूप से ट्रे में डाला जाता है जो बीज प्यालों में गिरता है उसे ही कार्यकारी नमूना मान लिया जाता है ।


( C ) बीज नमूने को आधा करने की संशोधित विधि ( Modified halving method of seed sample ) -

इसके लिए एक विशिष्ट ट्रे होती है जिसमे घनाकार प्रकोष्टों वाला एक ग्रिड (grid) लगा होता है ।

ग्रिड के प्रकोष्ट ऊपर से खुले रहते हैं तथा एकान्तरित रूप से प्रकोष्ठों में तल या पैदी नहीं होती है अर्थात् आधे प्रकोष्ठों में तली नहीं होती है ।

प्रारम्भिक नमूने का अच्छी प्रकार से मिश्रण कर लेते हैं । तत्पश्चात् बीज के गिड के ऊपर समान प्रकार से डाला जाता है ।

जब ग्रिड को ऊपर उठाया जाता है तो आधा बीज ट्रे में रह जाता है ।

वांछित नमूने की मात्रा प्राप्त होने तक इस प्रक्रिया को दोहराया जाता है ।


( D ) चम्मच विधि ( Spoon Method ) -

इस विधि का प्रयोग छोटे बीजों वाले जातियो के लिए किया जाता है ।

इसके लिए एक ट्रे, एक स्पेचुला (spatula) और एक सीधे सिरो वाली चम्मच की आवश्यकता पड़ती हैं ।

प्रस्तुत नमूने को अच्छी प्रकार मिश्रित करने के उपरान्त बोज को ट्रे मे समान रूप से डाल लिया जाता है ।

ट्रे में समान रूप से 5 स्थल चुन लिए जाते हैं तदन्तर एक हाथ में स्पेचुला तथा एक में चम्मच लेकर ट्रे में से 5 चुने स्थलों में से बीज निकाल लिया जाता है ।

इस प्रकार बीज की निकाली गयी मात्रा कार्यकारी नमूने के अनुरूप होनी चाहिये ।

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box.